close this ads
Next: Ganga Dussehra [4 June] | Gayatri Jayanti [5 June]

Mahavir Jayanti

महावीर जयंती - Mahavir Jayanti
महावीर जयंती (Mahavir Jayanti) is celebrated on the occasion of 24th Jain Tirthankar Shri Mahavir Swami`s birth anniversary also called जन्म कल्याणक (Janma Kalyanak). They spread the message of peace, non-violence and public welfare.

He was born in the hindu month of Chaitra Sukla Triyodashi, BC 599 in royal family of Maharaja Sri Siddhartha and Mata Trishila Rani Devi, In village Kundagram, situated in Vaishali Bihar. In childhood, the name of Lord Mahavir Swamiji was Vardhamana. Read Mahavir Jayanti in Hindi

Read Also:
» महावीर जयंती पर प्रसिद्ध जैन मंदिर!
» णमोकार महामंत्र

Information

Dates
Past Dates
19 April 2016
Upcoming Event
9 April 2017
Futures Dates
29 March 2018
17 April 2019
6 April 2020
25 April 2021
Related Name
Mahavir Janma Kalyanak - महावीर जन्म कल्याणक
Frequency
Yearly / Annual
Duration
1 Days
Begins / Ends (Tithi)
Chaitra Sukla Triyodashi
Months
March / April
Reason
Birth Anniversary of Shri Mahavir Swami
Celebrations
Bhajan/Kirtan, Religious Rituals, Prayers in Jain Temple

Mahavir Jayanti in Hindi

हिन्दू और जैन पंचांग के अनुसार, जैन धर्म के चौबीसवें तीर्थंकर श्री महावीर स्वामी के जन्म-दिवस के अवसर पर महावीर जयंती मनाई जाती है। उन्होंने `अहिंसा परमोधर्म` के सिद्धांत और लोक कल्याण का मार्ग अपना कर विश्व को शांति का सन्देश दिया।

भगवान श्री महावीर स्वामी का जन्म ईसा से 599 वर्ष पूर्व चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में त्रयोदशी तिथि को वैशाली स्थित के गांव कुंडग्राम बिहार में लिच्छिवी वंश राजपरिवार के महाराज श्री सिद्धार्थ और माता त्रिशिला रानी देवी के यहां हुआ था। बचपन में भगवान महावीर स्वामी का नाम वर्द्धमान था।
Bhagwan Valmiki MandirBhagwan Valmiki Mandir
Swami Raghawanand Ji Maharaj from Delhi Udasin Ashram inaugurated भगवान वाल्मीकि मंदिर (Bhagwan Valmiki Mandir) on the occasion of Valmiki Jayanti in 2015. Valmiki temple is easily accessible from Rohini East metro station.
प्रेरक कहानी: बाँके बिहारी जी का प्रेम
एक बार मैं ट्रेन से आ रहा था मेरी साथ वाली सीट पे एक वृद्ध औरत बैठी थी जो लगातार रो रही थी...
मैंने बार बार पूछा मईया क्या हुआ, मईया क्या हुआ?
प्रेरक कथा: मैं ना होता तो क्या होता ?
पर हनुमान जी, प्रभु श्रीराम से कहते है...
प्रभु, यदि मैं लंका न जाता, तो मेरे जीवन में बड़ी कमी रह जाती। विभीषण का घर जब तक मैंने नही देखा था, तब तक मुझे लगता था, कि लंका में भला सन्त कहाँ मिलेंगे...
दिल्ली के प्रमुख श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर
List of top Shri Krishna Pranami Dharm Temples in New Delhi, Noida, Ghaziabad...
दिल्ली के प्रसिद्ध वाल्मीकि मंदिर!
Maharishi Valmiki is considered as the first poet of Sanskrit language. Indian valmiki samaj worship him as a God. List of Bhagwan Valmiki temples of New Delhi, Noida, Ghaziabad, and Gurugram.
दिल्ली के प्रसिद्ध श्री शनिदेव मंदिर - 25 May 2017
Surydev's son Shri Shanidev governs planet Saturn, one of the member in Navgrah. Devotees pray Him on weekday Saturday.
List of top famous Shri Shanidev temples in New Delhi, Noida, Gurugram and Ghaziabad...
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top