close this ads

Valmiki Jayanti

वाल्मीकि जयंती - Valmiki Jayanti
वाल्मीकि जयंती (Valmiki Jayanti) is a birth anniversary festival of Adi Kavi(First poet of Sanskrit) Maharishi Valmiki. He was the writer of great epic Ramayana in sanskrit language. Devi Sita gave shelter by Him, and Her twin sons Kusha and Lava, also born in his ashram. Initially he was a highway dacoit named Ratnakar.

Information

Dates
Past Dates
16 October 2016
Upcoming Event
5 October 2017
Futures Dates
24 October 2018
13 October 2019
,
31 October 2020
20 October 2021
Related Name
Sharad Purnima - शरद पूर्णिमा, Tesu Punain - टेसू पूनै
Frequency
Yearly / Annual
Duration
1 Days
Begins / Ends
Ashwin Shukla Purnima
Months
October
Reason
Birth Anniversary of Bhagwan Valmiki
Celebrations
Fast, Bhajan/Kirtan, Sobha Yatra, Prayers in Valmiki Temple
Imp Places
Valmiki Mandir, Mandir Marg Delhi
Darshan Mukhi Shri Hanuman MandirDarshan Mukhi Shri Hanuman Mandir
Prachin Manokamna Siddh, Paschim Mukhi, Veer Roop, Chandan Dhari दर्शन मुखी श्री हनुमान मंदिर (Darshan Mukhi Shri Hanuman Mandir) in Shergarh fort near Chambal river.
प्रेरक कथा: नारायण नाम की महिमा!
संत जन आशीर्वाद देकर चले गए। समय बीता उसके पुत्र हुआ। नाम रखा नारायण। अजामिल अपने नारायण पुत्र में बहुत आशक्त था। अजामिल ने अपना सम्पूर्ण हृदय अपने बच्चे नारायण को सौंप दिया था।
आरती: श्री बाल कृष्ण जी
आरती बाल कृष्ण की कीजै, अपना जन्म सफल कर लीजै।
श्री यशोदा का परम दुलारा, बाबा के अँखियन का तारा।...
भोग आरती: आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन…
आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन…
भिलनी के बैर सुदामा के तंडुल, रूचि रूचि भोग लगाओ प्यारे मोहन…
आरती: कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥
आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की॥
गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला।...
मंत्र: श्री विष्णुसहस्रनाम पाठ
भगवान श्री विष्णु के 1000 नाम! विष्णुसहस्रनाम का पाठ करने वाले व्यक्ति को यश, सुख, ऐश्वर्य, संपन्नता, सफलता, आरोग्य एवं सौभाग्य प्राप्त होता है, एवं मनोकामनाओं की पूर्ति होती है।
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top