close this ads
Today, Mata Brahmacharinid - माता ब्रह्मचारिणी worshiped during Shardiya Navratri 2017.

कभी सोचा कि प्लेटलेट्स हमारे लिए इतनी क्यूँ महत्वपूर्ण है?

मेडिकल साइंस में सबसे ज्यादा प्रचलन में आने वाला शब्द है वो है प्लेटलेट्स (Platelets)ǀ जब कभी मरीज डेंगू और वायरल बुखार कि चपेट में कोई आता है तो डॉक्टर सबसे पहले आपकी प्लेटलेट्स की ही जांच के लिए ही बोलता हैǀ लेकिन कभी अपने सोचा कि प्लेटलेट्स हमारे लिए इतनी क्यूँ महत्वपूर्ण है ǀ

प्लेटलेट्स क्या है
प्लेटलेट्स हमारे रक्त कोशिकाओं (Blood Cells) की सबसे छोटी इकाई है, जिसे हम माइक्रोस्कोप से ही देख सकते हैंǀ इसकी आकृति (Shape) एक प्लेट कि तरह ही होती है जब अपनी स्थिति में रहती हैǀ प्लेटलेट्स हमरी रक्त कोशिकाओं (Blood Vessel) में रक्त के साथ ही पूरे शरीर में घूमती हैǀ जब कहीं किसी प्रकार का घात (Damage) होता है तो रक्त वाहिका (Blood Vessel) एक संकेत (Signal) भेजती हैंǀ संकेत मिलते ही प्लेटलेट्स अपनी एक्टिव स्थिति में आजाती हैं और जिस स्थान पर किसी प्रकार का आघात या चोट लगी है वहाँ इकठ्ठा होना शुरू हो जाती हैं और आघात के कारण हो रहे रक्त के श्राव को रोकने का काम करती हैंǀ मेडीकल साइंस में इसे ब्लड क्लोटिंग कहते हें जो कि प्लेटलेट्स के एक्टिव होने पर ही होती हैǀ

एक स्वस्थ व्यक्ति में 1,50,000 से 4,50,000 प्लेटलेट्स होनी ही चाहिएǀ यदि प्लेटलेट्स कि संख्या 4,50,000 से अधिक हो जाती है तो उस स्थिती को thrombocytosis कहते हैंǀ यदि प्लेटलेट्स कि संख्या 1,50,000 से कम हो जाती है तो उस स्थिति को thrombocytopenia कहते हैंǀ

मलेरिया, डेंगू और कुछ वायरल वायरस हमारे शरीर में प्रवेश कर सबसे पहले शरीर की प्लेटलेट्स को कम करके शरीर कि प्रतिरोधक क्षमता (Immune System) को प्रभावित करते हैंǀ जिससे शरीर धीरे-धीरे निर्जीव कि स्थिति में आजाता हैǀ वायरस हमारी रक्त कोशिकाओं में मिलकर शरीर के प्रत्येक हिस्से में अपना प्रभाव दिखाने लगता हैǀ

कुछ साधारण से घरेलु उपचार मात्र से ही हम अपनी प्लेटलेट्स में वृधि और नियंत्रित कर सकते हैंǀ

Tips 1
प्रतिदिन 25 से 30 ग्राम घ्रात्कुमारी (Alovera) के गुदे या उसके रस को पीने से ही आपकी प्लेटलेट्स नियंत्रित रहेगी और डेंगू, मलेरिया और वायरल बुखार से लड़ने कि भी तागत प्रदान करता हैǀ

Tips 2
गिलोय के जूस या गिलोय के तने को कूट कर उसके रस को निकाल लिया जाये और उसे सुबह-शाम खली पेट एलोवेरा जूस के साथ लें तो इस प्रयोग से भी 1 से 2 दिन में आपकी प्लेटलेट्स में वृधि होना शुरू हो जाएगीǀ

Tips 3
पपीते के पत्तों का रस निकालकर 30 से 50 मिली मात्रा में सुबह-शाम लेने से प्लेटलेट्स बढ़ना शुरू हो जाती हैǀ
- Abhishek Pratap Singh
If you love this article please like, share or comment!
कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या लाभ और हानि?
कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या क्या लाभ और हानि होती है
सोना एक गर्म धातु है।...
सेल्फी लेना हो सकता है आपके लिए खतरनाक!!
Caused by overusing the muscles attached to your elbow and wrist. Taking too many photos of yourself can result in selfie elbow, latest injury related to tech equipment...
पत्तल में खाने के महत्व
» पलाश के पत्तल में भोजन करने से स्वर्ण के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
मटके के पानी के फायदे!
» इसे पीने से पेट में भारीपन की समस्या भी नहीं होती।
» मटके की मिट्टी कीटाणुनाशक होती है जो पानी में से दूषित पदार्थो को साफ करने का काम करती है।
लू से बचाव ही उपाय है!
हम सभी धूप में घूमते हैं फिर कुछ लोगो की ही धूप में जाने के कारण अचानक मृत्यु क्यों हो जाती है? लू लगने से मृत्यु क्यों होती है?
कभी सोचा कि प्लेटलेट्स हमारे लिए इतनी क्यूँ महत्वपूर्ण है?
मेडिकल साइंस में सबसे ज्यादा प्रचलन में आने वाला शब्द है वो है प्लेटलेट्स (Platelets) ǀ जब कभी मरीज डेंगू और वायरल बुखार कि चपेट में कोई आता है तो डॉक्टर सबसे पहले आपकी प्लेटलेट्स की ही जांच के लिए ही बोलता है ǀ लेकिन कभी अपने सोचा?
भारतीय गाय और उनकी नेत्र ज्योति के लिए उपयोगता
गाय के शरीर पर प्रतिदिन 15-20 मिनट हाथ फेरने से B.P.भी ठीक होता है और नेत्र ज्योति भी बढ़ती है।...
जाने त्रिफला क्या है? और उसके प्रयोग
What is Trifla? and its uses: त्रिफला का अर्थ है तीन फल का मिश्रण। हरड़, बहेड़ा और आंवला ये तीन फल के मिश्रण को त्रिफला कहते हैं। जब ये तीन फल मिल कर जब त्रिफला बनता है इस को आयुर्वेद में एक रसायन के रूप में माना जाता है।...
Daily Useful Health Tips using Dohawali
पानी में गुड डालिए, बीत जाए जब रात! सुबह छानकर पीजिए, अच्छे हों हालात!!
धनिया की पत्ती मसल, बूंद नैन में डार! दुखती अँखियां ठीक हों, पल लागे दो-चार!!
दिमागी कमजोरी में फायदेमंद कुछ फल
आयुर्वेद की नजर से शंखपुष्पी स्मरणशक्ति को बढ़ाकर मानसिक रोगों व मानसिक दौर्बल्यता को नष्ट करती है। शंखपुष्पी का नाम इसके शंख आकृति के फूलों के कारण पड़ा है।...
JhandewalanJhandewalan
By the inspiration of spiritual power Shri Badri Bhagat initiate a Mata temple on hill and also install a flag therefore called Jandewala Temple but actual name of the temple is झंडेवालान (Jhandewalan), near Jhandewalan metro station.
मसखरी - Maskhari
उड़ते उड़ते ख़बर आयी है कि विश्व के सभी देशों की यात्रा निपटाने के बाद मोदी जी चाँद पर भी जाएँगे l
Bachpan to Reebok
पढ़-लिख कर हमने कार खरीदी :(
और वो...
अनपढ़ रह कर भी पेड़ लगाने चल दिए!!
Kavi Vinod Pandey Ki Kalam - 2017
खा रहें हैं जो टमाटर आजकल,दायरे में टैक्स के वो आएँगे
पी रहे हैं जो टमाटर जूस उनके, घर पे छापे जल्द मारे जायेंगे...
घुरपेँच - Ghurpainch
Q: ऑफ़स मे आपका ईशान कोण किस दिशा मे है?
A: जिस दिशा मे आपके बॉस की सीट हो, वही आपकी उत्तम दिशा है ;)
दिल्ली एन.सी.आर. में भारी वर्षा
दिल्ली मे बारिश हुई नही और टीवी, इंटरनेट, मोबाइल और रोड नेटवर्क सब जाम से जाम छलकाते मिलेंगे :)
आरती: माँ महाकाली
जय काली माता, मा जय महा काली माँ।
रतबीजा वध कारिणी माता।
सुरनर मुनि ध्याता, माँ जय महा काली माँ॥...
आरती: माँ दुर्गा, माँ काली
अम्बे तू है जगदम्बे काली जय दुर्गे खप्पर वाली।
तेरे ही गुण गाये भारती, ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती॥...
भजन: सर को झुकालो, शेरावाली को मानलो।
सर को झुकालो, शेरावाली को मानलो, चलो दर्शन पालो चल के।
करती मेहरबानीयाँ, करती मेहरबानियां॥
भजन: तुने मुझे बुलाया शेरा वालिये!
साँची ज्योतो वाली माता, तेरी जय जय कार।
तुने मुझे बुलाया शेरा वालिये, मैं आया मैं आया शेरा वालिये।
भजन: चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है।
चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है।
ऊँचे पर्वत पर रानी माँ ने दरबार लगाया है।
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top