close this ads

मटके के पानी के फायदे!

आयुर्वेद में मटके के पानी को शीतल, हल्का, स्वच्छ और अमृत के समान शुद्ध बताया गया है। यह प्राकृतिक जल का स्रोत है जो ऊष्मा से भरपूर होता है और शरीर की गतिशीलता बनाये रखने के साथ ही शीतलता भी प्रदान करता है।

» इस पानी को पीने से थकान दूर होती है।
» इसे पीने से पेट में भारीपन की समस्या भी नहीं होती।
» मटके की मिट्टी कीटाणुनाशक होती है जो पानी में से दूषित पदार्थो को साफ करने का काम करती है।
» सुबह के समय इस पानी के प्रयोग से दिल और आंखों की सेहत दुरूस्त रहती है।
» गला, भोजननली और पेट की जलन को दूर करने में मटके का पानी काफी उपयोगी होता है।
» घड़े का पानी रखें पीएच स्तर को संतुलित।
» गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद।
» मटके का पानी रखें वात दोष को संतुलित।
» मिट्टी के घड़े मे विषैले पदार्थ सोखने की शक्ति।
- Bhaskar
पत्तल में खाने के महत्व
» पलाश के पत्तल में भोजन करने से स्वर्ण के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
» केले के पत्तल में भोजन करने से चांदी के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
मटके के पानी के फायदे!
» इस पानी को पीने से थकान दूर होती है।
» इसे पीने से पेट में भारीपन की समस्या भी नहीं होती।
» मटके की मिट्टी कीटाणुनाशक होती है जो पानी में से दूषित पदार्थो को साफ करने का काम करती है।
कभी सोचा कि प्लेटलेट्स हमारे लिए इतनी क्यूँ महत्वपूर्ण है?
मेडिकल साइंस में सबसे ज्यादा प्रचलन में आने वाला शब्द है वो है प्लेटलेट्स (Platelets) ǀ जब कभी मरीज डेंगू और वायरल बुखार कि चपेट में कोई आता है तो डॉक्टर सबसे पहले आपकी प्लेटलेट्स की ही जांच के लिए ही बोलता है ǀ लेकिन कभी अपने सोचा?
भारतीय गाय और उनकी नेत्र ज्योति के लिए उपयोगता
गाय के शरीर पर प्रतिदिन 15-20 मिनट हाथ फेरने से B.P.भी ठीक होता है और नेत्र ज्योति भी बढ़ती है।...
जाने त्रिफला क्या है? और उसके प्रयोग
What is Trifla? and its uses: त्रिफला का अर्थ है तीन फल का मिश्रण। हरड़, बहेड़ा और आंवला ये तीन फल के मिश्रण को त्रिफला कहते हैं। जब ये तीन फल मिल कर जब त्रिफला बनता है इस को आयुर्वेद में एक रसायन के रूप में माना जाता है।...
Daily Useful Health Tips using Dohawali
पानी में गुड डालिए, बीत जाए जब रात! सुबह छानकर पीजिए, अच्छे हों हालात!!
धनिया की पत्ती मसल, बूंद नैन में डार! दुखती अँखियां ठीक हों, पल लागे दो-चार!!
दिमागी कमजोरी में फायदेमंद कुछ फल
आयुर्वेद की नजर से शंखपुष्पी स्मरणशक्ति को बढ़ाकर मानसिक रोगों व मानसिक दौर्बल्यता को नष्ट करती है। शंखपुष्पी का नाम इसके शंख आकृति के फूलों के कारण पड़ा है।...
Facts on Sahad (Honey) and Dalchini (Cinnamon)
It is found that a mix of honey (Hindi: Sahad - शहद) and cinnamon (Hindi: Dalchini - दालचीनी) cures most diseases. Honey is produced in most of the countries of the world...
8 Ways For Quit Smoking
According to World Health Organization (WHO) report, tobacco kills 150 people every hour in the South-East Asia Region. This data is unacceptable by everyone...
Decrease 25 kg in 2 months
आज के व्यस्त और सघर्ष भरी जिंदगी में लोग इतने व्यस्त हैं की अपने शरीर पे बिलकुल ध्यान नहीं दे पा रहे हैं। इसका का कारण है की वह सभी तरफ से प्रतिदिन बिमारिओं से घिरते जा रहे हैं।...
Shri Deshu Mata TempleShri Deshu Mata Temple
श्री देशु माता मंदिर (Shri Deshu Mata Temple) is in Kufri and it is on 3300 metres above the sea level. The road to Deshu mata temple is bifurcated from kufri on the way to Fagu.
मसखरी - Maskhari
राष्ट्रपति के लिए तो मायावती जी की दावेदारी भी कहीं से कमजोर नहीं है, आजकल जैसी योग्यता खोजी जा रही है, वो सभी योग्यताओं से परिपूर्ण हैं और अब तो सक्रिय राजनीति से भी दूर होने की कगार पर हैंl
योग दिवस स्पेशल: योग गुरु इंडिया
भारतीय योग की जो सरिता बही तो फिर
सारे विश्ववासी स्नान-ध्यान करने लगे... [yoga day special]
गुरुग्राम! शहरों का नया नज़रिया...
मैं: भाई कैसे हो, और क्या हाल हैं फ़िरोज़ाबाद के?
दोस्त: वडिया, खूब बारिश हो रही है फ़िरोज़ाबाद में...
हाय रे बारिश, वाह रे बारिश!
अगर बारिश हो गई तो, व्यवस्था खराब,
और अगर बारिश नहीं हुई, अर्थ-व्यवस्था खराब :(
घुरपेँच - Ghurpainch
अगर 15 जून तक यू.पी. के सारे गड्ढे भर जाने थे?
फिर जो अब पानी से भरे हैं... उनको स्टेट वॉटर रिज़र्व घोषित कर देना चाहिए
प्रेरक कहानी: वाह! किशोरी जी आपके नाम की कैसी अनंत महिमा है!
वाह! किशोरी जी आपके नाम की कैसी अनंत महिमा है!! मुझ पर इतनी कृपा की या खुद श्रीमद्भागवत से इतना प्रेम करती हो कि रोज़ मुझ से श्लोक सुनने मे तुमको भी आनंद आता है।
चालीसा: श्री बगलामुखी माता
सिर नवाइ बगलामुखी, लिखूं चालीसा आज॥
कृपा करहु मोपर सदा, पूरन हो मम काज॥
दिल्ली मे कहाँ करें माँ बगलामुखी की पूजा?
The Baglamukhi Jayanti puja can be done in morning or night. She is also known as Pitambara, everything should be yellow during puja.
दिल्ली मे कहाँ मनारहे? जगन्नाथ रथ यात्रा 25 जून 2017
बहु प्रतीक्षित जगन्नाथ रथयात्रा महोत्सव को दिल्ली वाले कहाँ-कहाँ माना रहे हैं। [रविवार, 25 जून 2017]
दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा, गुरूग्राम और फरीदाबाद के प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर:
प्रेरक कहानी: सुकर्म का फल सूद सहित मिलता है।
इंसान यदि सुकर्म करे तो उसका फल सूद सहित मिलता है, और दुष्कर्म करे तो सूद सहित भोगना पड़ता है।
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top