close this ads

बसंत ऋतु में बेर का सेवन अवश्य करें

बसंत ऋतु में गरिष्ठ भोजन करते रहने से हमारे शरीर मे वात, पित्त और कफ का संतुलन बिगड़ जाता है, अतः हल्का भोजन लें। इस मौसम में बेर तथा अमरूद जैसे फलों का सेवन अवश्य करना चाहिए क्योंकि ये फल विटामिन -सी से भरपूर होते हैं जो पाचनक्रिया को ठीक कर कब्ज की समस्या को दूर करते हैं।

English Version

Make sure to eat plenty of berries in the spring - In the spring of heavy food in our body keep Vata, Pitta and Kapha disturbs the equilibrium, so light meal. Plenty of fruits such as plum and guava in this season must these fruits are rich in vitamins-C, which digestion can solve the problem of constipation.

Hindi Version in English
basant rtu mein garishth bhojan karate rahane se hamaare shareer me vaat, pitt aur kaph ka santulan bigad jaata hai, atah halka bhojan len. is mausam mein ber tatha amarood jaise phalon ka sevan avashy karana chaahie kyonki ye phal vitaamin -see se bharapoor hote hain jo paachanakriya ko theek kar kabj kee samasya ko door karate hain.
- Acharya Bal Krishna Ji Maharaj
हाथ-पैरों में आने वाले ‪पसीने‬ का उपचार
आँवला चूर्ण एवं पिसी हुई मिश्री बराबर मात्रा मे मिलाकर प्रतिदिन सुवह - शाम 1-1 चम्मच सेवन करने से कुछ समय मे ही, हाथ की हथेली और पैरों के तलवों से आने वाले पसीने की समस्या मे लाभ मिलता है...
गर्मियों में हाथ पैरों में अकड़ाहट
इसलिए प्याज के रस को गुनगुना करके हथेलियों और पैर के तलवों की मालिश करने से अकड़ाहट मे लाभ मिलता है...
तलवों मे जलन को दूर करें
गुनगुने पानी मे एक चम्मच सरसों का तेल डालकर दोनो पैर दस मिनट के लिए इसमें डुबाकर रखें...
गर्मी का हेल्थड्रिंक, सत्तू !
गर्मी मे सत्तू का सेवन हेल्थ-ड्रिंक या कोल्ड-ड्रिंक की तरह करें।
गर्मियों मे प्यास बुझाने के लिए सत्तू के शर्बत का सेवन लाभकारी होता है...
गर्मियों मे प्याज अम्रत तुल्य!
प्रतिदिन भोजन के साथ कच्चा प्याज सलाद के रूप मे सेवन करने से लू से बचाव होता है। यह भूख ना लगने तथा पतले दस्त होने पर अत्‍यन्त लाभकारी है...
घमौरियों(Prickly Heat Rash) से राहत के उपाय।
सूती एवं ढीले-ढाले कपड़े पहिने, बाहर से आने पर नहाने के बाद नारियल तेल पूरे शरीर पर लगाएँ...
गर्मियों मे आम पन्ना अम्रत समान है!
आम का पन्ना, एक पारम्परिक भारतीय पेय है, इसे आम प्रचलित हानिकारक सॉफ्टड्रिंक के स्वाथ्य वर्धक पेय के रूप मे उपयोग लाना चाहिए...
पेट दर्द मे आरम के लिये पिये।
Mix 1 tsp each of mint juice and lime juice. Add some ginger juice and black salt in it. Drink this mixture for quick stomach pain relief.
दांतों से कीड़ा हटाने के घरेलु उपाय
पिसी हुई हल्दी और नमक को सरसों के तेल में मिला कर, इसे प्रतिदिन 2-4 बार दांतों पर मंजन की तरह मलने से कीड़े मर जाते हैं।
कीड़े लगे दांतों के खोखले भाग में लौंग का तेल रुई में भिगोकर लगाने से कीड़े नष्ट होते हैं।
आँख आना - Conjunctivitis
दूध पे जमी मलाई उतार कर, आँखें बंद करके पलकों के ऊपर रख लें। और रूई के साथ पट्टी बाँध लें, यह प्रयोग रात मे सोते समय करें।
Chhatarpur MandirChhatarpur Mandir
छत्तरपुर मंदिर (Chhatarpur Mandir) a group of temples like Maa Katyayani Mandir, Shri Laxmi Vinayak Mandir, Baba Jharpeer Mandir, Markandeya Mandapam, 101 feet Hanuman Murti. Temple popularly known as श्री आद्या कत्यायानी शक्ति पीठ मंदिर (Shri Adya Katyayani Shaktipeeth Mandir)
मसखरी - Maskhari
ऐसा लग रहा है कि विजय माल्या रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर टीम के खिलाडियों का पैसा भी दबा कर भगे हैं , आईपीएल में उन बेचारों का मारे अफ़सोस के परफॉरमेंस ही बिगड़ गया 🙂
घुरपेँच - Ghurpainch
आज लोगों को कब Sorry, Excuse Me, Thank You बोलना है, पता है।
पर सामने-वाले को हिन्दी मे आप (तू नहीं) बोलना होता है, बस ये नहीं पता।
मेरा नमस्ते कहना...
X ने Y को कहा, कि मेरा प्रणाम Z को बोलना...
अतः X चाहते हैं कि Y, Z को आज एक बार और प्रणाम करें।
अर्थात Y, Z से आज, एक बार और विनम्रता पूर्वक संवाद स्थापित करें।
कटप्पा ने बाहुबली क्यों मारा?
कटप्पा ने बाहुबली क्यों मारा?
...भारत को! ये जानना ज़्यादा इम्पोर्टेंट है क्या...?
कटी मेरी पतंग मांझे के हाथों ही...
कटी मेरी पतंग मांझे के हाथों ही, हमें फ़र्क़ था माझे पर नाज था!!
डूवी मेरी कश्ती पतवार के हाथो ही, हमें फ़र्क़ था पतवार पर नाज था!!
मंत्र: महामृत्युंजय मंत्र, संजीवनी मंत्र
ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्।
उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥
आरती: श्री पार्वती माँ
जय पार्वती माता, जय पार्वती माता, ब्रह्मा सनातन देवी, शुभ फल की दाता।
अरिकुल कंटक नासनि, निज सेवक त्राता, जगजननी जगदम्बा हरिहर गुण गाता।
श्री शनि जयंती के लिए दिल्ली के प्रसिद्ध मंदिर - 25 May 2017
श्री शनि जयंती! सूर्य देव एवं देवी छाया के पुत्र श्री शनिदेव के अवतरण दिवस के रूप मे मनाई जाती है।
आगे देखिए दिल्ली, गाज़ियाबाद के कुछ प्रसिद्ध मंदिर जहाँ मनाई जाती है, श्री शनि जयंती!
आरती: श्री शनिदेव जी
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।
सूरज के पुत्र प्रभु छाया महतारी॥जय जय..॥
चालीसा: श्री शनिदेव जी
जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल करण कृपाल।
दीनन के दुख दूर करि, कीजै नाथ निहाल॥
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top