close this ads

अपानवायु मुद्रा

अपानवायु मुद्रा
ह्रदय के विभिन्न रोग जैसे ह्रदय की अचानक तेज या मन्द गति होजाना, ह्रदय का धीरे-धीरे बैठ जाना और घवराहट होने पर इस मुद्रा के प्रयोग से तुरन्त लाभ होता है।

पेट की गैस, ह्रदय और पेट में बेचैनी होने पर इस मुद्रा के प्रयोग से दूर हो जाती है। इस मुद्रा का प्रतिदिन 20 से 30 मिनट प्रयोग किया जा सकता है।

विधि
अंगूठे के पास वाली उंगली को अंगूठे की जड़ में स्पर्श करें और अंगूठे के ऊपरी भाग से बीच की दोनों उंगलियों को स्पर्श करें। सबसे छोटी उंगली कनिष्ठिका को अलग ही रखें।
यदि हार्टअटैक आना आरम्भ हो जाये तो इस मुद्रा का तुरंत प्रयोग से लाभ होता है।
- Abhishek Pratap Singh
Yoga is India`s Gift to the World
Sadhguru speaks at the United Nations General Assembly on International Day of Yoga 2016, about yoga being India's gift to the world, and how it is a science of inner wellbeing.
ज्ञान मुद्रा
भारतीय संस्कृति में सबसे ज्यादा ज्ञान मुद्रा को प्राथमिकता दी जाती है। जिस कारण ही हमारे पूर्वज और ऋषिओं को सर्वज्ञ ज्ञान था। प्राचीनकाल में हमारे ऋषि महापुरुष वर्षों ज्ञान मुद्रा में बैठ कर ध्यान किया करते थे जिस कारन उनका ज्ञान सर्वत्र पूजनीय है...
प्राण मुद्रा
बचपन से ही चश्मा का लगना, प्राणशक्ति को बढ़ाना और शारीर को निरोग रखना प्राण मुद्रा इसके लिए रामवाण का कम करती है..
Steps of Surya Namaskar
Pranamasana (Prayer pose), Hastauttanasana (Raised Arms pose), Hasta Padasana (Hand to Foot pose)...
Watch, Hindi, Lyrics: Adiyogi - The Source of Yoga
दूर उस आकाश की गहराइयों में, एक नदी से बह रहे हैं आदियोगी...
गीत - प्रसून जोशी, ध्वनि एवं रचना - कैलाश खेर
वरुण मुद्रा
शरीर में पानी की कमी से भिन्न प्रकार के चर्म रोग हो जाते हैं। शारीर में रक्तविकार से एनीमिया रोग को वरुण मुद्रा प्रतिदिन अभ्यास से दूर किया जा सकता है...
पृथ्वी मुद्रा
शारीर का दुबलापन या किसी कारण शारीर के तेज में कमी आना, हर दूसरा व्यक्ति इस बीमारी से ग्रषित है। पृथ्वी मुद्रा के नियमित प्रयोग से शारीर में किसी कारण से आई दुर्वलता दूर हो जाती है...
वायु मुद्रा
जोड़ों का दर्द, हाथ-पैर के जोड़ों में दर्द और यदि लकवा के कारण शारीर में आयी कमजोरी और दर्द में वायु मुद्रा का प्रयोग बहुत ही लाभकरी है...
अपानवायु मुद्रा
ह्रदय के विभिन्न रोग जैसे ह्रदय की अचानक तेज या मन्द गति होजाना, ह्रदय का धीरे-धीरे बैठ जाना और घवराहट होने पर इस मुद्रा के प्रयोग से तुरन्त लाभ होता है...
लिंग मुद्रा
शारीर में उष्णता भडानी हो तो लिंग मुद्रा का प्रयोग करना सबसे ज्यादा लाभदायक है। खाँसी और कफ को जड़ से मिटाने के लिए ये सबसे अधिक प्रभावशाली मुद्रा है।
Baba Bateshwarnath DhamBaba Bateshwarnath Dham
बाबा बटेश्वरनाथ धाम (Baba Bateshwarnath Dham) is the series/group of ancient 101 Lord Shiv temples therefore called Dham. Hindus make pilgrimage to the river Yamuna in honour of Lord Shiva. Some of the temples have decorative ceilings and ornamental walls.
मसखरी - Maskhari
क़िस्मत बड़ी बुलंद थी भैया नीतीश की, मँझधार में फँसी थी नैया नीतीश की
सब डर रहे थे जिससे वो बात हो गयी, लालू ने आज दूह ली गैया नीतीश की
Kavi Vinod Pandey Ki Kalam - 2017
खा रहें हैं जो टमाटर आजकल,दायरे में टैक्स के वो आएँगे
पी रहे हैं जो टमाटर जूस उनके, घर पे छापे जल्द मारे जायेंगे...
घुरपेँच - Ghurpainch
Q: ऑफ़स मे आपका ईशान कोण किस दिशा मे है?
A: जिस दिशा मे आपके बॉस की सीट हो, वही आपकी उत्तम दिशा है ;)
दिल्ली एन.सी.आर. में भारी वर्षा
दिल्ली मे बारिश हुई नही और टीवी, इंटरनेट, मोबाइल और रोड नेटवर्क सब जाम से जाम छलकाते मिलेंगे :)
गुरुग्राम! शहरों का नया नज़रिया
मैं: भाई कैसे हो, और क्या हाल हैं फ़िरोज़ाबाद के?
दोस्त: वडिया, खूब बारिश हो रही है फ़िरोज़ाबाद में...
प्रेरक कहानी: एक जोड़ी, पैरों के निशान?
आपने तो कहा था. कि आप हर समय मेरे साथ रहेंगे, पर मुसीबत के समय मुझे दो की जगह एक जोड़ी ही पैर ही दिखाई दिए...
प्रेरक कहानी: अच्छे को अच्छे एवं बुरे को बुरे लोग मिलते हैं!
गुरु जी गंभीरता से बोले, शिष्यों आमतौर पर हम चीजों को वैसे नहीं दखते जैसी वे हैं, बल्कि उन्हें हम ऐसे देखते हैं जैसे कि हम खुद हैं।...
प्रेरक कहानी: जब पंडित जी नदी मे बह गए...
अनपढ़ नाविक क्या कहे, उसने इशारे में ना कहा, तब पंडित जी मुस्कुराते हुए बोले तुम्हारी तो पौनी जिंदगी पानी में गई।...
प्रेरक कहानी: कद्दू का तीर्थ स्नान!
वह कद्दू ले लिया, और जहाँ-जहाँ गए, स्नान किया वहाँ-वहाँ स्नान करवाया। मंदिर में जाकर दर्शन किया तो उसे भी दर्शन करवाया।...
प्रेरक कहानी: हर समस्या का कोई हल होता है!
परेशानी के भंवर मे अपने को फंसा पाओ, कोई प्रकाश की किरण नजर ना आ रही हो, हर तरफ निराशा और हताशा हो तब तुम इस ताबीज को खोल कर इसमें रखे कागज़ को पढ़ना, उससे पहले नहीं!
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top