close this ads
Home » Literature » Poetry

Poetry

लपेटे में नेता जी...
आप अपने भाई हास्य कवि विनोद पांडेय को यहाँ भी देख सकते हैं। न्यूज़ 18 इंडिया (जिसका पहले नाम IBN 7 था) के खास शो में। एक अद्भुत कार्यक्रम जिसमें यूपी चुनाव पर सभी पार्टी के नेताओं से कविताओं में प्रश्न पूछा गया और वो बड़ी चतुराई से उत्तर देते रहें ।
Poetry | by: विनोद पांडेय
`Paa` ke sath ke wo pal... Father`s day special
`पा` की डाँट पे रूठ जाना, फिर `पा` की आँखो मे झलकता प्यार,
फिर हमारे नखरे की दरकार, सब याद आते हैं वो पल, `पा` के साथ के वो पल...
Poetry | by: Abhishek Pratap Singh
लव वाली कविता...
कुछ ऐसे वीर अभी भी है, जो याद संजोए रहते है,
गत साल मिला जो सिला इन्हे, बस उसमें खोए रहते है
इतने लाचार हैं आदत से, अब भी ये पगला जाते हैं...
Poetry | by: विनोद पांडेय
दिल दिल हुआ हुआ... फकीरा......
तुम मिले तो मिले जहाँ, तुम खिले तो खिले जहाँ!
मेरी शाहिल का तुम किनारा, दिल दिल हुआ फकीरा!!
Poetry | by: आकाँक्षा जादौन
Pyar Ki Pyar Se Rachna - Vinod Pandey
आज भी वो प्यार का पंक्षी चहकता है सनम, देखकर एल्बम पुराना दिल बहकता है सनम...
Poetry | by: विनोद पांडेय
डूँडती मेरी नज़र भटकता दरबदर...
डूँडती मेरी नज़र भटकता दरबदर... काश कि मिल जाये रव पूँछू....
किस खता की मिली सजा, काश कि मिल जायें रव!!
Poetry | by: आकाँक्षा जादौन
आधी अधूरी कहानी...
रोके से रुके न थम थम के आँसू बरसते है,
हाथो में बसी जीवन रेखा क्यो कतराती हैं,
ज़िंदगी के बनने से पहले धागे क्यो टूटते है!!
Poetry | by: आकाँक्षा जादौन
Kavi Vinod Pandey Ki Kalam - 2016
कहते थे सब लोग नाम से मुलायम हैं, निकले बड़े कठोर नाम के नहीं हुए
काम बोलने लगा तो अखिलेश को हटाये, वही जो कभी भी किसी काम के नहीं हुए ...
Poetry | by: विनोद पांडेय
उसे हम आँगन मे लगा ना सके...
जो तुलसी का छोटा सा पौधा, हमारे आँगन के लिए उपयुक्त था।
उसे हम आँगन मे लगा ना सके...
Poetry | by: Nitin Pratap Singh
ऐ शाम की धूप कुछ कहना है चाहती
शाम को पंछी कुछ सीखना चाहते हैं,
अपनी एकता की शक्ति को दिखना चाहते हैं...
Poetry | by: Abhishek Pratap Singh
Mandir By BhaktiBharat.com
Dwarka DhamDwarka Dham
द्वारका धाम (Dwarka Dham) is considered to be one of the Seven Moksha Puri. There are four dhams, four Vaishnava pilgrims defined by Guru Shankaracharya. One of these four pilgrims, it is the Dwarkadhish temple of Dwarka in the west direction of India.
ज्ञान मुद्रा
भारतीय संस्कृति में सबसे ज्यादा ज्ञान मुद्रा को प्राथमिकता दी जाती है। जिस कारण ही हमारे पूर्वज और ऋषिओं को सर्वज्ञ ज्ञान था।...
कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या लाभ और हानि?
कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या क्या लाभ और हानि होती है
सोना एक गर्म धातु है।...
सेल्फी लेना हो सकता है आपके लिए खतरनाक!!
Caused by overusing the muscles attached to your elbow and wrist. Taking too many photos of yourself can result in selfie elbow, latest injury related to tech equipment...
Yoga is India`s Gift to the World
Sadhguru speaks at the United Nations General Assembly on International Day of Yoga 2016, about yoga being India's gift to the world, and how it is a science of inner wellbeing.
प्राण मुद्रा
बचपन से ही चश्मा का लगना, प्राणशक्ति को बढ़ाना और शारीर को निरोग रखना प्राण मुद्रा इसके लिए रामवाण का कम करती है..
अधूरा पुण्य - Adhura Punya
दिनभर पूजा की भोग, फूल, चुनरी, आदि सामिग्री चढ़ाई - पुण्य
पूजा के बाद, गन्दिगी के लिए समान पेड़/नदी के पास फेंक दिया - अधूरा पुण्य
अपने पुण्य को अधूरा ना छोडे, पुण्य पूरा ही करें...
मन की बात - Mann Ki Baat
मन की बात (Mann Ki Baat) is an Indian radio programme hosted by the Prime Minister Narendra Modi in which he freely addresses to the people of nation on radio, DD(Doordarshan) National and DD News.
Say NO to Plastic Bags!
ग़लत सोच: कोई आइटम हाथ मे अच्छा नही लगता, इस लिए पॉलिबॅग मे डाल लेते हैं।
सही सोच: पॉलिबॅग हाथ मे अच्छा नही लगती, इसलिए आइटम हाथ मे ही ले लेते हैं।
RSS की देशहित गतिविधियाँ
हिंदू कैलेंडर के मुताबिक नव वर्ष की शुरुआत चैत्र मास की शुक्ल प्रतिपदा से होती है। इसे हिंदू नव संवत भी कहते हैं। माना जाता है कि, भगवान ब्रह्मा जी ने इसी दिन सृष्टि की रचना शुरू की थी।
XOR and XNOR Implementation using JavaScript
Conceptual representation of XOR using Truth Table, Conceptual representation of XNOR using Truth Table and javascript representation.
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top