close this ads
Next: Ganga Dussehra [4 June] | Gayatri Jayanti [5 June]

Preet Vihar Metro Station Delhi

About | Services & Route | Mandir Darshan
Preet Vihar (प्रीत विहार) Metro StationPreet Vihar (प्रीत विहार) well known area on the bank of river Yamuna, therefore called Preet Vihar Metro Station. Due to lack of space entire metro station built upon two sided road. Also cover-up Ganesh Nagar, Laxmi Nagar, Karkarduma and Nirman Vihar.

Services & Route Informations

ATMs
State Bank of India
Parking
No

Blue Line - नीली लेन [Since: 6 January 2010]

Karkarduma | Elevated | Side Platform | Nirman Vihar

Near By Temples

Shiv Mandir Gufa Wala Beautiful spiritual picnic place having jeevant kalakratiyan, caves and park near Preet Vihar metro station in the campus of शिव मंदिर गुफा वाला (Shiv Mandir Gufa Wala).
Beautiful spiritual picnic place having jeevant kalakratiyan, caves and park near Preet Vihar metro station in the campus of शिव मंदिर गुफा वाला (Shiv Mandir Gufa Wala).
@ G Block, Preet Vihar, New Delhi - 110092
Shri Durga Mandir A group of Mata Bhakt collactively come together and decided to build a social and dharmik place. The result of such concept initate a श्री दुर्गा मंदिर (Shri Durga Mandir) in Preet Vihar.
A group of Mata Bhakt collactively come together and decided to build a social and dharmik place. The result of such concept initate a श्री दुर्गा मंदिर (Shri Durga Mandir) in Preet Vihar.
@ D Block Preet Vihar, New Delhi - 110092
Bhagwan Valmiki MandirBhagwan Valmiki Mandir
Swami Raghawanand Ji Maharaj from Delhi Udasin Ashram inaugurated भगवान वाल्मीकि मंदिर (Bhagwan Valmiki Mandir) on the occasion of Valmiki Jayanti in 2015. Valmiki temple is easily accessible from Rohini East metro station.
पत्तल में खाने के महत्व
» पलाश के पत्तल में भोजन करने से स्वर्ण के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
» केले के पत्तल में भोजन करने से चांदी के बर्तन में भोजन करने का पुण्य व आरोग्य मिलता है।
मटके के पानी के फायदे!
» इस पानी को पीने से थकान दूर होती है।
» इसे पीने से पेट में भारीपन की समस्या भी नहीं होती।
» मटके की मिट्टी कीटाणुनाशक होती है जो पानी में से दूषित पदार्थो को साफ करने का काम करती है।
हाथ-पैरों में आने वाले ‪पसीने‬ का उपचार
आँवला चूर्ण एवं पिसी हुई मिश्री बराबर मात्रा मे मिलाकर प्रतिदिन सुवह - शाम 1-1 चम्मच सेवन करने से कुछ समय मे ही, हाथ की हथेली और पैरों के तलवों से आने वाले पसीने की समस्या मे लाभ मिलता है...
गर्मियों में हाथ पैरों में अकड़ाहट
इसलिए प्याज के रस को गुनगुना करके हथेलियों और पैर के तलवों की मालिश करने से अकड़ाहट मे लाभ मिलता है...
तलवों मे जलन को दूर करें
गुनगुने पानी मे एक चम्मच सरसों का तेल डालकर दोनो पैर दस मिनट के लिए इसमें डुबाकर रखें...
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top