Shri Yashoda Nand Ji Mandir

Updated: Jan 19, 2017 06:46 AM
About | Timing | Photo Gallery | Map
श्री यशोदा नन्द जी मंदिर (Shri Yashoda Nand Ji Mandir) - Nandgaon, Uttar Pradesh - 281405
On the top of Nandishwar hill, श्री यशोदा नन्द जी मंदिर (Shri Yashoda Nand Ji Mandir) is dedicated to father and mother of Lord Shri Krishna and Dau Ji. Latthamar Holi is the world wide famous festival of Nandgaon Temple.

Key Highlights

» Mata Yashoda rasoi (kitchen) can be visited on first floor.
» Large size laddu as a prashad distibuted among every devotee.
» Full 360 view of Nandgaon can be visited through first floor coridore.
» High latitude car parking facility.
» Tasty and Fresh pedes are available in front of main entry gate shop.

Information

Timing
Summer : 6:00 AM - 11:00 AM, 4:30 PM – 7:30 PM
Winter : 6:00 AM - 1:00 PM, 4:30 PM – 8:00 PM
Popular Name
श्री नन्द बाबा मंदिर, नन्दगाँव मंदिर, नन्द भवन , Shri Nand Baba Mandir, Nandaganv Mandir, Nand Bhavan
Dham
Nandishwar Mahadev
Shri Krishna
Dauji Maharaj
Pawan Sarovar
Basic Services
Prasad, Drinking Water, Parking
Charitable Services
Gaushala
Organized By
Mandir Prabandhak Committee Barsana
How to Reach
Road: Kosi Nandagan Gowardhan Shokha Marg
Nearest Railway: Kosi Kalan, Mthura Jn
Address
Nandgaon, Uttar Pradesh - 281405
Photography
No (It's not ethical to capture photograph inside the temple when someone engaged in worship! Please also follow temple`s Rules and Tips.)
Coordinates
27.711242°N, 77.385408°E

Photo Gallery

Photo in Full View
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir
Shri Yashoda Nand Ji Mandir

About History

देवाधिदेव महादेव शंकर ने अपने आराध्यदेव श्रीकृष्ण को प्रसन्न कर यह वर माँगा था कि मैं आपकी बाल्यलीलाओं का दर्शन करना चाहता हूँ। स्वयं भगवान श्रीकृष्ण ने नन्दगाँव में उन्हें पर्वताकार रूप में स्थित होने का आदेश दिया। श्रीशंकर महादेव भगवान के आदेश से नन्दगाँव में नन्दीश्वर पर्वत के रूप में स्थित होकर अपने आराध्य देव के आगमन की प्रतीक्षा करने लगे। श्रीकृष्ण परम वैष्णव शंकर की अभिलाषा पूर्ण करने के लिए नन्दीश्वर पर्वत पर ब्रजवासियों विशेषत: नन्दबाबा, यशोदा मैया तथा गोप सखाओं के साथ अपनी बाल्य एवं पौगण्ड अवस्था की मधुर लीलाएँ करते हैं।

Shri Yashoda Nand Ji Mandir on Map

http://www.npsin.in/mandir/nand-baba-mandir
Chhatarpur MandirChhatarpur Mandir
छत्तरपुर मंदिर (Chhatarpur Mandir) a group of temples like Maa Katyayani Mandir, Shri Laxmi Vinayak Mandir, Baba Jharpeer Mandir, Markandeya Mandapam, 101 feet Hanuman Murti. Temple popularly known as श्री आद्या कत्यायानी शक्ति पीठ मंदिर (Shri Adya Katyayani Shaktipeeth Mandir)
हाथ-पैरों में आने वाले ‪पसीने‬ का उपचार
आँवला चूर्ण एवं पिसी हुई मिश्री बराबर मात्रा मे मिलाकर प्रतिदिन सुवह - शाम 1-1 चम्मच सेवन करने से कुछ समय मे ही, हाथ की हथेली और पैरों के तलवों से आने वाले पसीने की समस्या मे लाभ मिलता है...
गर्मियों में हाथ पैरों में अकड़ाहट
इसलिए प्याज के रस को गुनगुना करके हथेलियों और पैर के तलवों की मालिश करने से अकड़ाहट मे लाभ मिलता है...
तलवों मे जलन को दूर करें
गुनगुने पानी मे एक चम्मच सरसों का तेल डालकर दोनो पैर दस मिनट के लिए इसमें डुबाकर रखें...
गर्मी का हेल्थड्रिंक, सत्तू !
गर्मी मे सत्तू का सेवन हेल्थ-ड्रिंक या कोल्ड-ड्रिंक की तरह करें।
गर्मियों मे प्यास बुझाने के लिए सत्तू के शर्बत का सेवन लाभकारी होता है...
स्वच्छ भारत अभियान - Swachh Bharat Abhiyan
^
top